Bhopal News: महालेखाकार कार्यालय में पदस्थ सूदखोर लेखा परीक्षक गिरफ्तार

Share

Bhopal News: गरीब मजदूरों की जरुररतों का फायदा उठाकर रखता था चेक, ब्लेकमेल करके वसूलता था भारी रकम

Bhopal News
कंट्रोल रूम में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान सूदखोरी की जानकारी देते हुए डीसीपी साई कृष्णा थोटा। साथ में हैं एडीसीपी और एसीपी। तस्वीर पुलिस विभाग से जारी।

भोपाल। सूदखोरी के खिलाफ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) ने अभियान चलाने का ऐलान किया था। कुछ दिन बाद वह ठंडे बस्ते में चला गया था। दरअसल, लॉक डाउन के बाद कई घरों की माली हालत खराब है। जिस कारण शहर में कई सूदखोर गरीबों को ब्याज में रकम देकर पैसा ऐंठने का काम कर रहे हैं। ऐसा ही एक मामला भोपाल (Bhopal News) शहर के ऐशबाग थाने में दर्ज हुआ था। जिसमें पुलिस ने महालेखाकार परीक्षक कार्यालय के लेखा परीक्षक अधिकारी को गिरफ्तार किया है। आरोपी के कब्जे से भारी मात्रा में चेकबुक और एटीएम कार्ड जब्त हुए हैं।

यह बोलकर धमकाता था सूदखोर अफसर

गिरफ्तारी की जानकारी देते हुए पुलिस उपायुक्त जोन-01 साईंकृष्णा थोटा (DCP Sain Krishna Thota) ने बताया कि मामले की जांच के लिए अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त जोन-1 श्रुतकीर्ति सोमवंशी (ADCP Shrutkirti Somvanshi) और एसीपी जहांगीराबाद अभिनय विश्वकर्मा की अगुवाई में टीम बनाई गई थी। यह टीम दीन दयाल विश्वकर्मा पिता पन्ना लाल विश्वकर्मा उम्र 42 साल की शिकायत पर दर्ज मामले की जांच कर रही थी। दीन दयाल विश्वकर्मा (Deen Dayal Vishwkarma) भीम नगर शिव मंदिर के पास बल्लभ भवन अरेरा हिल्स में रहता है। इस मामले में आरोपी कमल किशोर मीणा (Kamal Kishore Meena) था। वह ओल्ड सुभाष नगर इलाके में रहता है। आरोपी सिक्यूरिटी के तौर पर लोगो से खाली चेक लेता था। ब्याज का पैसा न देने और समय हो जाने पर ब्याज दर 10 से 20 गुना वसूलने का काम वह करता था। रकम न देने पर चैक में मनमानी रकम भरकर उसे बाउंस कराकर अपराध पंचीबद्ध कराने की धमकी देता था।

यह भी पढ़ें:   Bhopal RTO News: कार्रवाई करने के बाद आरटीओ छुट्टी पर गए

यह सामान हुआ बरामद

Bhopal News
पुलिस नियंत्रण कक्ष में आयोजित पत्रकार वार्ता में खुलासा करने वाली ऐशबाग थाना पुलिस की टीम। तस्वीर पुलिस विभाग की तरफ से जारी।

पुलिस ने इस मामले में आरोपी कमल किशोर मीणा पिता घनश्याम मीणा को गिरफ्तार किया है। वह ओल्ड सुभाष नगर में रहता है। दीन दयाल के अलावा आरोपी ने जयपाल सिंह (JaipalSingh), उनकी बेटी नंदनी उईके, नारायण यादव (Narayan Yadav), पप्पू धुर्वे, हेमन्त कुमार (Hemant Kumar), चंद्रेश, नंदराम से भी ब्याज पर पैसा देकर चेक रख लिए थे। पुलिस ने ऐशबाग थाना प्रभारी चतुर्भुज सिंह राठौर (TI Chaturbhuj Singh Rathore), एएसआई योगेन्द सिंह, हवलदार लोकेन्द्र सोलंकी, संतोष मंदरे, राजीव रघुवंशी, अमित करदाते की मदद से गिरफ्तार किया गया है। आरोपी मूलत: राजस्थान (Rajasthan) के सवाई माधौपुर का रहने वाला है। आरोपी के कब्जे से 42 खाली और भरे चैक, लगभग 20 रसिदिया टिकिट, अलग अलग अकाउण्ट के 9 एटीएम कार्ड, पांच मोबाईल सिम और 9 पासबुक बरामद की है।

यह भी पढ़िएः तीन सौ रूपए का बिल जमा नहीं करने पर बिजली काटने के लिए आने वाला अमला, लेकिन करोड़ों रूपए के लोन पर खामोश सिस्टम और सरकार का कड़वा सच

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!