Morena Hooch Tragedy: सीएम ने कलेक्टर—एसपी को हटाया

Share

Morena Hooch Tragedy: मुरैना का पूरा सच पहले से लेकर अब तक, बंगले पर अचानक बुलाई थी आपात बैठक, दिल्ली जाने के पहले लिया एक्शन

Morena Hooch Tragedy
बैठक में मंत्रियों और अफसरों से मुरैना कांड को लेकर चर्चा करते मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान-साभार एमपी इंफो

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मुरैना जिले के कलेक्टर और एसपी को हटाने के आदेश जारी कर दिए हैं। वहीं तीन सदस्यीय अफसरों की एक एसआईटी बना दी गई है। यह एसआईटी मुरैना में जहरीली शराब पीने से हुई 16 लोगों की मौत (Morena Hooch Tragedy) के मामले की जांच करेगी। जिसके बाद सरकार आगे भी अपनी कार्रवाई बदस्तूर जारी रखेगी। इससे पहले कलेक्टर ने आबकारी अधिकारी को वहीं एसपी ने एक टीआई और दो एसआई को सस्पेंड किया था।

अभियान पर जताई नाराजगी

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) ने बुधवार सुबह आपात बैठक बुलाई थी। इस बैठक में गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा (Minister Jagdish Devda), सीएस इकबाल सिंह बैस, डीजीपी विवेक जौहरी समेत आला अधिकारी मौजूद थे। बैठक में सीएम ने कहा कि मुरैना (Morena Alcohal Death) की घटना अमानवीय और तकलीफ पहुंचाने वाली है। उन्होंने कहा कि मिलावट के खिलाफ अभियान चल रहा है। उसके बावजूद ऐसे मामले प्रकाश में आ रहे हैं। मुख्यमंत्री ने इसके बाद मुरैना कलेक्टर अनुराग वर्मा (IAS Anurag Verma) और एसपी अनुराग सुजानिया (IPS Anurag Sujaniya) को हटाने के लिए कहा। मुख्यमंत्री के तेवर देखकर प्रशासनिक हलकों में हड़कंप मच गया। इसके बाद डीजीपी ने पुलिस मुख्यालय में बैठक बुला ली।

यह भी पढ़ें: दिल्ली के इस एसीपी की वर्दी वाली तस्वीर की कहानी जिसको भोपाल के लोग आसानी से भूल नहीं पाए

जांच करने के लिए कमेटी गठित

Morena Hooch Tragedy
शिवराज सिंंह चौहान, मुख्यमंत्री, फाइल फोटो

मुख्यमंत्री ने बैठक में कहा कि मैं मूकदर्शक नहीं रह सकता। सीएम ने कहा कि पूरे प्रदेश में शराब के खिलाफ अभियान छेड़ा जाए। आबकारी अमले को और अधिक मजबूत बनाने के उन्होंने आदेश दिए। बैठक में सीएम ने कहा कि कलेक्टर—एसपी तक ही जांच सीमित न रहे। इसमें दोषी सारे लोगों को सबक मिले। इसके लिए मुख्य सचिव ने एक कमेटी बनाने का प्रस्ताव रखा। जिसमें एसीएस होम राजेश राजौरा (ACS Rajesh Rajoura), एडीजी विजीलेंस साईं मनोहर (ADG Sain Manohar) और आईजी एके पांडे (IG AK Pande) को सदस्य बनाया गया है। जांच प्रतिवेदन के बाद सरकार अगला कदम उठाएगी। मुख्यमंत्री बुधवार को दिल्ली जाने वाले थे। वहां रवाना होने से पहले यह सख्त एक्शन लेकर मुख्यमंत्री ने कड़े तेवर दिखा दिए।

यह भी पढ़ें:   मध्य प्रदेश का लाल आतंकी हमले में शहीद

मौत को लेकर आंकड़े अलग—अलग

मुरैना केे बागचीनी थाना क्षेत्र में स्थित विसंगपुरा—मानपुर इलाके में जहरीली शराब पीने से रविवार—सोमवार की दरमियानी रात पहली मौत हुई थी। सोमवार को यह संख्या बहुत ज्यादा पहुंच गई। हालांकि इसकी संख्या को लेकर सरकार आधिकारिक रुप से कोई बयान जारी नहीं कर सकी है। समाचार पत्रों में भी आंकड़े अलग—अलग बताए हैं। दैनिक भास्कर में मौतों की संख्या 16 है तो नव दुनिया में यह आंकड़ा 15 का बताया गया है। वहीं पत्रिका और टाईम्स आफ इंडिया ने 14—14 बताई गई है। यह पहला मौका नहीं है जब इतनी संख्या में लोगों की मौत हुई हो। इससे पहले उज्जैन, रतलाम और खरगोन में भी जहरीली शराब पीने से मौत हुई थी। यह मामले पिछले चार महीने के भीतर हुए हैं।

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में माफिया को दफनाने का दावा करने वाले मुख्यमंत्री को राजधानी के इन हालातों पर सवाल अफसरों से जरुर पूछना चाहिए

यह लोग थे जिम्मेदार

Morena Hooch Tragedy
अस्पताल में भर्ती मरीजों से बातचीत करते पुलिस अफसर

शराब तस्कर मुकेश किरार, गिर्राज किरार, राजू किरार, पप्पू शर्मा, रामवीर राठौर के इस घटना में नाम सामने आ रहे हैं। पुलिस ने इस मामले में 10 लोगों को अब तक हिरासत में लिया है। घटना को लेकर एसपी अविनाश सुजानिया ने बागचीनी थाना प्रभारी अविनाश राठौड को निलंबित किया गया था। जबकि दो बीट प्रभारियों को भी सस्पेंड किया गया। वहीं आबकारी अधिकारी जावेद अहमद को पहले ही हटा दिया था। चंबल कमिश्नर इस पूरे मामले की मॉनिटरिंग कर रहे हैं। सीएम के साथ हुई बैठक के बाद एसडीओपी मुरैना सुजीत भदौरिया (SDOP Morena Sijeet Bhadouriya) को सस्पेंड किया गया है।

यह भी पढ़ें:   Grih Pravesham Ceremony: पितृपक्ष में पौने दो लाख गरीबों का गृह प्रवेश कार्यक्रम

जहरीली शराब पीने से इन लोगों की गई जान

जहरीली शराब पीने से मौत (Morena Hooch Tragedy) के आंकड़े अभी सामने नहीं आए है। लेकिन, दैनिक भास्कर ने इन नामों की सूची बुधवार को प्रकाशित की है। जिसके अनुसार पहावली गांव के बंटी पिता पंजाब सिंह गुर्जर, जितेंद्र पिता पंजाब सिंह गुर्जर, राम निवास पिता सिद्धार गुर्जर। मानपुर गांव के दीपेश पिता प्रकाश, कमल किशोर पिता वीरेंद्र, रामकुमार किरार पिता छोटेलाल, घर्मेंद्र पिता महासिंह किरार, सरनाम पिता अमरसिंह किरार, दिलीप पिता रामचंद्र शाक्य, जितेंद्र पिता पातीराम जाटव, केदार पिता हुकुम सिंह किरार। बिलौयापुरा सुमावली के मुकुट सिंह पिता बुद्धाराम जाटव। मुरैना के जवराम पिता ओंमकार सिंह नीरपुर, जितेंद्र पिता सोनेराम छेरा की मौत होना बताया गया है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!