Bhopal Crime: युवती समेत तीन लोगों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

पोस्टमार्टम के बाद शव सौंपने का पुलिस ने किया दावा

Bhopal Crime
सांकेतिक चित्र

भोपाल। (Bhopal Crime News In Hindi) युवती समेत तीन लोगों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। यह मामले मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News In Hindi) के गोविंदपुरा, टीटी नगर और सुखी सेवनिया थाना क्षेत्र के हैं। पुलिस ने सभी मामलों में मर्ग कायम कर शव पोस्टमार्टम के लिए हमीदिया अस्पताल भेज दिया है। पुलिस का दावा है कि पीएम के बाद शव परिजनों को सौंप दिए गए हैं।

गोविंदपुरा थाना पुलिस ने www.thecrimeinfo.com (द क्राइम इंफो डॉट कॉम) को बताया कि विकास नगर झुग्गी बस्ती इलाके में 19 वर्षीय रेखा रविदास (Rekha Ravidas) पिता दशरथ ने फांसी लगाकर जान देने की जानकारी मिली है। उसको मां इंद्रावती और भाई संतोष फंदे (Bhopal Hanging Case) से उतारकर जेपी अस्पताल ले गए थे। फिलहाल आत्महत्या की वजह का पुलिस ने खुलासा नहीं किया है। पुलिस का दावा है कि वह मामले की जांच कर रही है। पुलिस ने सुसाइड नोट मिलने या कोई अन्य कारणों से जुड़े सवाल पर भी ठोस जवाब नहीं दिया है। इसी तरह टीटी नगर थाना क्षेत्र स्थित बाणगंगा निवासी अंजली राठौर (Anjali Rathore) पत्नी शेखर उम्र 20 साल की मौत हो गई।

पुलिस ने www.thecrimeinfo.com (द क्राइम इंफो डॉट कॉम) को बताया कि अंजली को उल्टियां हुई थी। जिसके बाद परिजन उसको जेपी अस्पताल ले गए थे। यहां चिकित्सकों ने उसको मृत घोषित कर दिया। अंजली नव विवाहिता थी इसलिए जांच सीएसपी टीटी नगर को भेजी जा रही है। इधर, सुखी सेवनिया थाना क्षेत्र स्थित प्रेमपुरा निवासी नीलेश विश्वकर्मा (Neelesh Vishwkarma) पिता रामबाबू विश्वकर्मा उम्र 22 साल की मौत हो गई। परिजन उसको इलाज के लिए पीपुल्स अस्पताल ले गए थे। यहां परिजनों ने चिकित्सकों को बताया था कि उसको घर पर करंट लगा था। पुलिस को पड़ताल में मालूम हुआ है कि वह घर पर तार सुधार रहा था तभी जोरदार झटका लगने से वह गिर गया था।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Rape Case: पिता के बहनोई ने किया बेटी को अगवा, तीन महीने तक बंधक बनाकर रखा

अपील

देश वैश्विक महामारी से गुजर रहा है। हम भी समाज हित में स्पॉट रिपोर्टिंग करने से बच रहे हैं। इसलिए समाज और लोगों से अपील करते हैं कि यदि उनके पास भ्रष्टाचार, कालाबाजारी या जिम्मेदार अफसरों की तरफ से लापरवाही की कोई जानकारी या सूचना हैं तो वह मुहैया कराए। www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है। हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!