MP IPS Transfer: ज्योतिरादित्य सिंधिया की जांच के आदेश देने वाले डीजी का तबादला

ई-टेंडर की जांच करने वाले एसपी की भी रवानगी, भोपाल आईजी को एडीजी इंटेलिजेंस बनाया गया, देर रात सरकार ने किए आदेश जारी

MP IPS Transfer
एडीजी आदर्श कटियार (बाएं) और उपेन्द्र जैन (दाएं)

भोपाल। (Madhya Pradesh IPS Transfer News) पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ (Ex CM Kamal Nath) के सत्ता से हटने के साथ कुर्सी संभालने वाले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (MP CM Shiv Raj Singh Chouhan) ने बल्लेबाजी शुरु कर दी है। सरकार ने गुरुवार रात भारतीय पुलिस सेवा के 8 अफसरों के तबादला आदेश (MP IPS Transfer) जारी किए हैं। इस आदेश में रोहित हाउसिंग सोसायटी की जांच और एफआईआर के आदेश देने वाले डीजी आर्थिक प्रकोष्ठ विंग (Madhya Pradesh Economic Offense Wing) सुशोभन बनर्जी को चलता कर दिया गया है। सुशोभन बनर्जी हाल ही में उस वक़्त सुर्खियों में आये थे जब उन्होंने भाजपा नेता और राज्यसभा के उम्मीदवार ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ एक बंद हुई जांच के दोबारा शुरु करने के आदेश दिए थे। उस वक़्त कमल नाथ की सरकार थी। जब ऐसा किया गया तब सिंधिया कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थामा था। इससे पहले सिमी जेल ब्रेक कांड के वक्त भी मुख्यमंत्री की तीसरी पारी के दौरान शिवराज सिंह चौहान सरकार ने उन्हें हटाया था। इसके अलावा ई-टेंडर की जांच के वक्त से सुर्खियों में आए एसपी ईओडब्ल्यू (MP EOW) अरुण कुमार मिश्रा को भी बटालियन में पहुँचा दिया गया है। भोपाल आईजी आदर्श कटियार (Adarsh Katiyar) एक बार फिर अच्छी पोस्ट पाने में कामयाब रहे। उन्हें सरकार ने एडीजी इंटेलीजेंस की जिम्मेदारी सौंप दी है।
जानकारी के अनुसार भारतीय पुलिस सेवा में 1988 बैच के अफसर राजीव टंडन को ईओडब्ल्यू में डीजी बनाया गया है। यहाँ पहले से तैनात 1989 बैच के आईपीएस सुशोभन बनर्जी को सागर में स्थित जेनपीए में एडीजी बनाया गया। यहां इससे पहले 19 फरवरी को तत्कालीन कमल नाथ की सरकार ने 1992 बैच के आईपीएस और एडीजी डीसी सागर को भेजा था। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उस आदेश को निरस्त करके सागर को होमगार्ड एवं आपदा प्रबंधन की जिम्मेदारी यथावत रखी है। डीसी सागर को आईपीएस मीट के दौरान नाव पलटने पर हटाया गया था। सरकार ने एडीजी इंटेलीजेंस और 1990 बैच के आईपीएस एसडब्ल्यू नकवी को पीएचक्यू की जिम्मेदारी सौंप दी है। फिलहाल विभाग तय नहीं हुआ है। नकवी की जगह भोपाल रेंज के आईजी एडीजी आदर्श कटियार को भेजा है। कटियार 1992 बैच के आईपीएस हैं और शिवराज सिंह चौहान के ओएसडी भी रहे हैं। भोपाल आईजी एडीजी दूरसंचार उपेंद्र जैन को बनाया गया है। जैन भारतीय पुलिस सेवा में 1991 बैच के अफसर हैं। उपेंद्र जैन भोपाल आईजी पहले भी रहे हैं। भाजपा सरकार ने पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ की ओएसडी रहीं 1991 बैच की आईपीएस प्रज्ञा ऋचा श्रीवास्तव की सामान्य प्रशासन की सेवा वापस ले ली हैं। उनका पूर्व का विभाग अजाक यथावत रखा गया है। अब सीएम ओएसडी 1997 बैच के आईपीएस मकरंद देउस्कर को बनाया गया है। देउस्कर के पास आईजी सीआईडी की जिम्मेदारी भी थी। देउस्कर इंटेलीजेंस विंग में भी रहे हैं। सरकार ने ईओडब्ल्यू एसपी अरुण कुमार मिश्रा को मंडला स्थित 35वीं वाहिनी में सेनानी बनाया है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: डीजे वाले की दुश्मनी पड़ी दूल्हे को महंगी

अपील
देश वैश्विक महामारी से गुजर रहा है। हम भी समाज हित में स्पॉट रिपोर्टिंग करने से बच रहे हैं। इसलिए समाज और लोगों से अपील करते हैं कि आप भी 14 अप्रैल तक घर पर रहे। सामाजिक दूरी बनाकर भी आप देशहित के लिए बड़ा बलिदान कर रहे हैं। घर बैठे भी आप भ्रष्टाचार, काला बाजारी या जिम्मेदार अफसरों की तरफ से लापरवाही की कोई जानकारी या सूचना हैं तो हमें घर बैठे भी भेज सकते हैं। आपकी बात संबंधित मंच तक हम पहुँचा देंगे।
www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है। हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!