MISS FIRE : राजभवन के आरक्षक से चली गोली, दूसरे आरक्षक को लगी

MISS FIREहथियार चैक कराने के दौरान हुआ हादसा, गंभीर हालत में बंसल अस्पताल में भर्ती

भोपाल। मध्यप्रदेश सशस्त्र सुरक्षा बल (SAF) के एक जवान (Miss fire) से गोली चल गई। यह गोली नजदीक खड़े दूसरे आरक्षक को लग गई। जिस आरक्षक की बंदूक से गोली चली वह राजभवन की सुरक्षा में तैनात था। उसके पास राज्यपाल के पीएसओ (Personnel security officer) की ड्यूटी थी। हादसा उस वक्त हुआ जब वह अपने हथियार को चैक करा रहा था।

यह जानकारी देते हुए टीटी नगर संभाग के सीएसपी उमेश तिवारी ने बताया कि एसएएफ आरक्षक (Miss fire) सुनील मरेठिया 15वीं बटालियन इंदौर में तैनात हैं। फिलहाल 15वीं बटालियन की एक कंपनी राजभवन की सुरक्षा में लगी हुई है। राज्यपाल के पीएसओ ड्यूटी में तैनात एसएएफ आरक्षक सुनील मरेठिया (34) और अब्दुल लईक (32) शुक्रवार दोपहर करीब साढे 4 बजे भदभदा स्थित 25वीं बटालियन में (Miss fire) हथियार चैक कराने पहुंचे थे। पहले डीजी रिजर्व सातवीं बटालियन में थी, कुछ महीने पहले ही 25वीं बटालियन में पहुंची है। राजभवन सिक्योरिटी में तैनात पीएसओ गार्ड को यहां हर तीन माह में (Miss fire) हथियार चैक कराने होते हैं। यह पुलिस विभाग की तरफ से आदेश जारी किया गया है। हथियार चैक कराने के बाद आरक्षक अब्दुल लईक ने पिस्टल में मैग्जीन फंसाकर लोड़ की। इसी दौरान पिस्टल में मैग्जीन फंस गई और वह कॉक हो गई। पिस्टल कॉक होने के बाद आरक्षक अब्दुल लईक ने बिना आरमोरर की मदद से पिस्टल को खोलने का प्रयास किया। तभी पिस्टल से गोली चल गई और पास में खड़े आरक्षक सुनील मरेठिया की जांघ के पार निकल गई।

यह भी पढ़ें:   VIP Security: गांधी परिवार की सुरक्षा कैटेगरी बदली तो छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह पर पड़ा असर

चारों तरफ मची भगदड़
गोली (Miss fire) चलते ही वहां सन्नाटा पसर गया। अफरा-तफरी मच गई। आवाज सुनकर कई लोग वहां भागे। आवाज सुनकर 25वीं बटालियन के हेड़ क्वार्टर मास्टर घायल सुनील को लेकर बंसल अस्पताल लेकर पहुंचे। यहां से उसे दूसरे अस्पताल भेज दिया गया है। इधर, कमला नगर थाना पुलिस ने इस मामले में आरक्षक अब्दुल लईक के खिलाफ लापरवाही बरतने और पिस्टल चलने की धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज कर अग्रिम कार्रवाई शुरू कर दी है।

Don`t copy text!