14 साल की लड़की का Gang Rape करने वालों तक ऐसे पहुंची Crime Branch

Share

स्कैच के आधार पर की आरोपियों की तलाश, थाना पुलिस को लेनी पड़ी क्राइम ब्रांच की मदद

Uttar Pradesh Gang Rape
सांकेतिक चित्र

अहमदाबाद। ( Ahmedabad) गुजरात (Gujrat) के वड़ोदरा (Vadodara) में 14 साल की लड़की से गैंगरेप की घटना ने पुलिस को हिला कर रख दिया था। 28 नवंबर की रात गैंगरेप (Gang Rape) की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों तक पहुंचने में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी। अहमदाबाद क्राइम ब्रांच (Ahmedabad Crime Branch) की मदद से आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। अहमदाबाद के विशेष पुलिस आयुक्त (अपराध) अजय तोमर (Ajay Tomar) ने कहा कि किशन मथासुरिया (28) और जसो सोलंकी (21) को वडोदरा के तारसाली इलाके से गिरफ्तार किया गया।

तोमर ने संवाददाताओं से कहा, अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने मामले को सुलझाने के लिए वडोदरा शहर पुलिस के साथ समन्वय में काम किया। “पुलिस के अनुसार, वड़ोदरा के राजमहल रोड पर नवलखी कम्पाउंड (Navlakhi Compound)  इलाके में 28 नवंबर की रात को लड़की के साथ बलात्कार किया गया था, जहां वह अपने पुरुष मित्र के साथ गई थी। आरोपियों ने नाबालिग के साथ जा रहे लड़के की पिटाई की और फिर उसे भगा दिया था। जिसके बाद लड़की को एकांत जगह में ले जाकर बारी-बारी से हवस का शिकार बनाया था।

पुलिस ने आरोपियों के दो अलग-अलग स्केच जारी किए थे और यहां तक ​​कि आरोपी के बारे में जानकारी के लिए 1 लाख रुपये का इनाम भी घोषित किया था। तोमर ने कहा, “आरोपी मथासुरिया मूल रूप से आणंद के तारापुर गांव का रहने वाला है, जबकि सोलंकी राजकोट के जसदान का रहने वाला है। दोनों को वडोदरा के तारसाली इलाके से गिरफ्तार किया गया, जहां वे रहते थे।

यह भी पढ़ें:   नक्सली हमला: भाजपा विधायक की मौत, तीन जवान भी शहीद

पुलिस अधिकारी ने कहा कि हमने पर्याप्त सबूत इकट्ठा किए हैं जो अपराध में उनकी भागीदारी का समर्थन करते हैं। आरोपी चोरी और मारपीट के मामलों में भी आरोपी रह चुके है। तोमर के अनुसार, पुलिस ने अपराध की जांच के लिए मुखबिरी, सीसीटीवी फुटेज, तकनीक का इस्तेमाल किया, जिसके कारण आरोपियों तक पहुंचा जा सका। उन्होंने कहा कि आरोपी को आगे की जांच के लिए वडोदरा पुलिस को सौंप दिया गया है।

Don`t copy text!